यूट्यूब वाला. ज़िंदगी इश्‍क़ज़ादी.

AS

मेरी कहानी

मेरा शौक किताबें हैं। उन किताबों की पनाह ने दुनिया को बेहतर एवं सूक्ष्म दृष्टिकोण से देखने और समझने का सलीक़ा दिया है। मेरी साहित्य में ख़ासी रूचि है। अनेक कहानियां, कविताएं, ग़ज़लें और डायरियां लिखी हैं जो कई प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में छपी हैं। सीखते रहने और ख़ुद के विस्तार की निरंतर क़ोशिश करता हूं।

यूट्यूब पर विडियो बनाता हूं। इस माध्यम से देश-दुनिया के राजनीतिक, आर्थिक एवं सांस्कृतिक मामलों पर अपनी राय रखता हूं।

पत्रकारिता मेरा ज़ुनून है। जिसका माध्यम मैंने यूट्यूब चुना। जहां आपका प्यार और साथ भरपूर मिल रहा है।

अधिक पढ़ें →

मेरे वीडियो देखें

 

AS

मेरी रूचियां

जो मुझे भीतर से मज़बूत और ख़ुश रखती है
AS

प्रेरणा

OSHO

किसी से किसी भी तरह की प्रतिस्‍पर्द्धा की आवश्‍यकता नहीं है। आप स्‍वयं में जैसे हैं, एकदम सही हैं। ख़ुद को स्‍वीकारिए।

ओशो

मेरे साथ सच्चाई की यात्रा में जुड़ें

AS

मेरी कलम

कहानियां, कविताएं, ग़ज़लें और पन्ने
Kumar Shyam


मेरा शौक किताबें हैं

उन किताबों की पनाह ने दुनिया को बेहतर एवं सूक्ष्म दृष्टिकोण से देखने और समझने का सलीक़ा दिया है। मेरी साहित्य में ख़ासी रूचि है। अनेक कहानियां, कविताएं, ग़ज़लें और डायरियां लिखी हैं जो कई प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में छपी हैं। सीखते रहने और ख़ुद के विस्तार की निरंतर क़ोशिश करता हूं।

मेरी कलम पढ़ें →

लव जिहाद : मिथ्यावरण या सच्चाई?
लव जिहाद के बारे में अधिक नहीं लिखूंगा. इस विषय पर एक विस्‍तृत एपिसोड कर चुका हूं. यूट्यूब पर देखा जा सकता है. लेकिन भाजपा शासित राज्‍यों में ‘लव जिहाद’ को रोकने के लिए लाए जा रहे क़ानूनों के बाद…
दलित-मूलवासियों की निशानियों की पुनर्स्थापना कब होगी?
अब मथुरा-काशी बाकी है? श्रीरामजन्‍मभूमि पूजन के बाद यह बात उभर रही है कि अब मथुरा-काशी की बारी है? इसका आशय है कि यहां भी जिन मंदिरों को तोड़कर मस्‍जिद बनाई गई है, उनकी ज़गह मंदिरों की पुनर्स्‍थापन हो! बाबरी…
भूख और बेबसी पर अट्टहास !
कोई दीया जलाए न जलाए यह महत्‍‍वपूर्ण नहीं है. महत्‍वपूर्ण है कि देश का नेतृत्व करने वाले प्रधान की मंशा क्‍या है? उनके भीतर क्‍या घटित हो रहा है? ताली-थाली और घंटी के बाद दीप प्रज्‍जवलन का उत्‍सव. चिकित्‍सकों का…